स्वामी विवेकानंद के स्वप्नों का युवक ऐसा हो !

स्वामी विवेकानंद के स्वप्नों का युवक ऐसा हो !

  • admin
  • March 19, 2018

स्वामी विवेकानंद के स्वप्नों का
युवक ऐसा हो !
मुखमण्डल तेजस्वी हो !
वाणी ओजस्वी हो !
शरीर में शक्ति हो !
मन में उत्साह हो !
सद्बुद्धि और विवेक हो !
हृदय में करूणा हो !
मातृभूमि पर प्रेम हो !
इन्द्रियों पर संयम हो !
मन जिसका स्थिर हो !
आत्मविश्वास दृढ़ हो !
इच्छाशक्ति प्रबल हो !
साहसी शूरवीर हो !
सिंह जैसा निर्भय हो !
लक्ष्य जिसका ऊँचा हो !
सत्य जिसका ईश्वर हो !
व्यसनों से मुक्त हो !
जीवन में अनुशासन हो !
मधुर प्रेममयी वाणी हो !
सम्पूर्ण जगत कुटुम्ब हो !
गुरूजनों पर सम्मान हो !
माता-पिता पर श्रद्धा हो !
मानवीय संवेदना हो !
दीन-दुखियों का मित्र हो !
सेवा में सदा तत्पर हो !
ईश्वर में भक्ति हो !
अचल देशभक्ति हो !
जीवन पूर्ण नैतिक हो !
चरित्र जिसका शुद्ध हो !ं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Want to become a part of Bhama Defence Academy?

Contact Us