भारतीय थल सेना

भारतीय सेना एक परिचय
भारतीय सेना पर हर भारतीय को गर्व है और हो भी क्यों न, यह भारतीय सेना ही जो भारत को हमेशा दुश्मनों से दूर रखती है।
भारतीय सैनिक अपनी जान पर खेल कर हमारे वतन को सुरक्षित और स्वतंत्र बनायें रखते हंै। उनकी वीरता और कत्र्तव्य-परायणता
की भावना के लिए पूरा देश उन्हें सम्मान की नजरों से देखता है।

भारतीय सेना विश्व की श्रेष्ठतम् सेनाओं में से एक है। इसकी स्थापना सन् 1776 में हुई, यह विस्तृत सेना भारत की रक्षा करने हर समय दुश्मन से लोहा लेने को तत्पर रहती है। भारतीय सेना कई युद्धों में परचम लहराकर अपनी सर्वश्रेष्ठता सिद्ध की। यहां तक की प्रथम विश्व युद्ध में भी भारतीय सेना ने धुरी राष्ट्रों के छक्के छुडाएं। कम संसाधनों के द्वारा भी विजय प्राप्त करने की कुशलता भारतीय सेना में विद्यमान है ऐसे अनेकों अवसर आये जब भारतीय सैनिकों ने अपनी जान की परवाह न करते हुए भी अपनी देशभक्ति का अदभुत परिचय दिया। धन्य है इस देश की वे वीर माताएं जिन्होनें ऐसे वीर सपूतों को जन्म दिया, भारत-चीन युद्ध हो या भारत-पाक युद्ध, कारगिल युद्ध हो या सीमा पार से छद्म युद्ध सभी में भारतीय सैनिकों ने बहादुरी की मिशाल पेश की है। जिससे भारतीय सेना को विश्व की श्रेष्ठतम सेना का दर्जा प्राप्त है। भारतीय सेना विश्व की किसी भी सेना से मुकाबला करने में श्रेष्ठ है जो केवल भारतीय सेना के अदभुत साहस के बल पर ही सम्भव है। यह सब सम्भव है सैनिकों के धैर्य, त्याग, देश प्रेम व सेवा के प्रति समर्पण से।

 

Soldier
(General Duty) (All Arms)

भर्ती प्रक्रियाः-
योग्यता- 10वीं/12वीं उत्तीर्ण, ऊँचाई- 170सेमी, सीना-फुलाव 5 सेमी, वजन-ऊँचाई के अनुसार, दोनों आँखों की दृष्टि 6/6 बिना चश्में के होना अनिवार्य है। खुली भर्ती के तहत सेना में भर्ती देश के भिन्न-भिन्न प्रांतों में वर्ष में कई बार आयोजन होता रहता है।

प्रथम चरणः- आॅनलाईन रजिस्ट्रेशन  www.joinindianarmy.nic.in पर करवाना होगा।

द्वितीय चरणः- शारीरिक परीक्षणः-

1. प्रारम्भ में दौड़ का आयोजन किया जाता है। दौड़ में उत्तम प्रदर्शन करने वाले युवाओं का चयन आगे की प्रक्रिया के लिए किया जाता है।
2. दौड़ में चयनित उम्मीद्वारों का शारीरिक व स्वास्थ्य परीक्षण किया जाता है।
3. स्वास्थ्य परीक्षण में सफल अभ्यार्थियों को लिखित परीक्षा से गुजरना पड़ता है।
4. लिखित परीक्षा (100 अंक) व शारीरिक परीक्षण (100अंक) में प्राप्त अंको का योग करके उच्चतम अंक प्राप्त करने वाले उम्मीद्वारों को चयन भारतीय सेना के लिए किया जाता है।

पाठ्यक्रम:- भारत का इतिहास, भारत का भूगोल, सामान्य ज्ञान व विज्ञान, तर्क शक्ति, गणित (सामान्य), समसामयिकी।

Soldier (Technical)
(Technical Arms, Artillery, Army Air Defence)

Soldier Clerk / Store Keeper Technical (All Arms)

 

Soldier Nursing Assistant
(Army Medical Corps)

NA Syllabus & Marking

 

Soldier Tradesmen (All Arms)

Survey Automated Cartographer
(Engineers)

Junior Commissioned Officer Religious Teacher (All Arms)

Junior Commissioned Officer Catering
(Army Service Corps)

 

नोटः- उच्च पदों पर नियुक्ति लिखित परीक्षा व प्रमोशन के आधार पर होती है। सेना में अधिकारी पदों पर नियुक्ति

NDA/NA/CDS की प्रतियोगी परीक्षाओं से होती है।10+2 Technical Entry Scheme (10+2 TES)

Want to become a part of Bhama Defence Academy?

Contact Us